Wednesday, June 22, 2011

100 वीं पोस्‍ट .... 26वीं पर 25वीं की याद

पिछली 23 जून को हमारे (नीमा और राजेश)  विवाह की पच्‍चीसवीं वर्षगांठ थी और आज है छब्‍बीसवीं। तेईस वर्षगांठ  हमने होशंगाबाद या भोपाल में ही मनाई थीं। चौबीसवीं वर्षगांठ पर कुछ ऐसा संयोग हुआ था कि हम साथ नहीं थे। और जो हुआ था उस पर मैंने एक पोस्‍ट ही लिख डाली थी। चाहें तो आप आज भी पढ़ सकते हैं - सालगिरह याद रखने के सत्रह सौ साठ बहाने । लेकिन पच्‍चीसवीं पर संयोग कुछ ऐसा हुआ कि हम साथ-साथ थे । नीमा मेरे कहने पर अकेले ही भोपाल से 1600 किलोमीटर का लंबा रेल सफर करके बंगलौर आ गई थीं। 23 को हम मैसूर में मित्र सरस्‍वती के घर थे। उनकी बेटी (जो हमारी भी है) राधा ने एक अनोखा आयोजन हमारे लिए किया। उसने एक-एक गुलाब हमको दिया और आग्रह किया कि हम उसे एक-दूसरे को दें। और कहा कि कसम लें कि अगले पच्‍चीसों साल तक इसी तरह लड़ते-झगड़ते रहेंगे, पर रहेंगे एक साथ ही।  हमने राधा की गवाही में ऐसी ही कुछ कसम ली भी ।
इस साल मैं भोपाल में हूं। सब कुछ वैसा ही है। बस कमी है तो बाबूजी की। वे अब नहीं हैं।  बीते बरसों में कई बार हम इस दिन आमने-सामने होते थे। पांव छूते और आर्शीवाद मिलता। और जब नहीं होते तो हम फोन पर पांव छूते और वे फोन की मार्फत ही अपना आर्शीवाद  दे देते। आज सुबह होशंगाबाद से मां ने फोन पर वही कहा जो वे हर बरस कहती रहीं हैं-खुश रहो। आवाज नहीं सुनाई दी तो वह केवल बाबूजी की। बहरहाल उनका आर्शीवाद तो साथ है ही। आज ही छोटे भाई अनिल और रानी की शादी की वर्षगांठ भी है।
                                                                                                                               0 राजेश उत्‍साही


21 comments:

  1. शुभकामनाएं.

    ReplyDelete
  2. आपकी गुल्लक सदा ही प्रेम और पोस्टों से भरी रहे।

    ReplyDelete
  3. अग्रिम बधाई दे चुके हैं, आज फ़िर से स्वीकार करें। ऐसी अनंत वर्षगांठें आप यूँ ही मनाते रहें, शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  4. आज तो डबल बधाई है ।
    100 वीं पोस्ट के साथ शादी की सालगिरह की हार्दिक बधाई और शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  5. आप दोनों का गुलाब आदान प्रदान और ईमानदारी की कसमें बहुत पसंद आई ...आशा है लड़ते झगड़ते आपका प्यार परवान चढ़ेगा :-)

    बाबूजी का गैप कहाँ भरेगा ...मगर आप जैसा पुत्र उनकी इच्छाओं की पूर्ति करता रहेगा, यही शुभकामनायें हैं !
    सादर

    ReplyDelete
  6. आपको और आपके छोटे भाई को शादी की सालगिरह की बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  7. ट्रिपल बधाई और शुभकामनायें ।

    ReplyDelete
  8. नीमा भाभी चरण स्पर्श!
    गुरुदेव प्रणाम!!
    चौथाई सदी गुज़ार ली सात जन्मों में से... "बाक़ी भी इसी तरह गुज़र जाये तो अच्छा"... अनंत शुभकामनाएँ!!

    ReplyDelete
  9. पोस्टों के शतक की बधाई तो रह ही गई!! आप "सचिन" बनें यही शुभकामना है!!

    ReplyDelete
  10. बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएं ..........

    ReplyDelete
  11. अनेकानेक शुभकामनाएं । आपका वैवाहिक जीवन जन्मजन्मान्तर तक ऐसे ही प्रेम और उल्लास से भरा रहे ।

    ReplyDelete
  12. सबसे पहले शादी की सिल्वर जुबली पूरी होने की बधाई स्वीकार कीजिये |

    शादी की सालगिरह वो भी २५ वी बहुत सस्ते में छुट गये इसलिए बड़े आराम से अगले २५ साल क्या आप सात जन्म तक नीमा जी जैसी धर्मपत्नी पाने की कमाना कीजिये |

    और पोस्ट की सतक की भी बधाई हो |

    ReplyDelete
  13. ढेरों शुभकामनाएं...

    नीरज

    ReplyDelete
  14. bhaiya....saadi ke varshganth ki dheron shubhkamnayen...:)

    ReplyDelete
  15. आपको विवाह की छब्बीसवीं वर्षगाँठ बहुत-बहुत मुबारक़ हो ।

    ReplyDelete
  16. Der se pahunchne ka bada mamal hai....deri ke liye maafi deti huye shadi kee 26ween varshganth aur blog post ke shatak ke liye bahut bahut haardik shubhkamnayen.... ishwar aapko yun hi sada khushhaal rakhe, yahi kamna hai..
    saadar

    ReplyDelete
  17. प्रणाम !
    आपको विवाह की छब्बीसवीं वर्षगाँठ बहुत-बहुत मुबारक़ हो !
    सादर !

    ReplyDelete
  18. 100वीं पोस्ट और 26वीं बैवाहिक वर्षगाँठ पर शुभकामनाएँ!
    चार दिन पहले हमारी भी उच्चारण पर 1000वीं पोस्ट थी!

    ReplyDelete
  19. shatak puraa hone ki haardik shubkaamnayen....

    dua karte hain, sahastra bhi pura karen....

    ReplyDelete
  20. वैवाहिक वर्षगांठ की शुभकामनाएं और बधाई।
    सौवीं पोस्ट की भी बधाई।
    सच पिता बिन सब अवसर सूना लगता है। हमने भी विगत कुछेक वर्षों से यह महसूस किया है।

    ReplyDelete

जनाब गुल्‍लक में कुछ शब्‍द डालते जाइए.. आपको और मिलेंगे...